मिज़ाज का परिन्दा

खुदा ने लिखा ही नहीं तुझको
मेरी किस्मत में शायद
वरना खोया तो बहुत कुछ था
एक तुझे पाने के लिए



*न जाने किस मिज़ाज का परिन्दा है यह दिल…*
*सीने मैं तो रहता है मगर वश में नहीं…!!*❤?

कोई जवाब और प्यारा एहसास

✻↬ एक मैं ??हूँ , ♯किया ना✖ कभी सवाल
❓कोई..!↬ !’एक तुम
हो ,??जिसका कोई जवाब?✌ नही..!??



प्यार वो प्यारा एहसास है* ❤
*जिसमें, हम खुद को भुला*
*देते है किसी और के लिए..*

शराबी और औरत

एक शराबी और औरत


एक शराबी और औरत के बीच झगड़ा हो गया .
शराबी-: तू मोटी, काली कलूटी, दांतली कही की.
औरत-: तू नशेडी , पियक्कड़,शराबी कही का.
शराबी जोर जोर से हंसने लगा और बोला,
*मैं तो कल सुबह ठीक हो जाऊगा पर तू सारी उमर ऐसी ही रहेगी*